How to Create Child Theme In WordPress In Hindi?/ WordPress में Child theme कैसे क्रिएट करें?/ how to create a child theme in WordPress step by step.

हेलो Friends , आज के इस blog post में मैं आपको बताने वाला हूँ की WordPress में Child theme कैसे create करते है| जो भी यूजर WordPress पर नए है या फिर WordPress use करने की सोच रहे है, उनके लिए यह blog बहुत ही helpful हो सकता है |

जैसा की हम जानते है की WordPress एक बहुत ही popular platform है blogging website क्रिएट करने के लिए, और आप इसे customize करके अपने हिसाब से एक product और service वेबसाइट में भी convert कर सकते है, पर इसके लिए आपको coding आना जरुरी है | पर आज के इस blog में हम WordPress Child theme पर ही focus करेंगे|

आखिर WordPress में Child theme क्या होती है, और इसे create करने से हमें क्या फायदा होता है ?

WordPress में Child theme parent theme का ही प्रतिरूप होती है, इसे हम अपने हिसाब से customize भी कर सकते है | और parent theme में मौजूद ज्यादातर files को override कर सकते है, और अपने जरुरत के हिसाब से functions , css , और pages file में चेंज कर सकते है |

पर ये सब change तो हम parent theme में भी कर सकते है तो Child theme बनाने का क्या फायदा होता है ?

हाँ, बिलकुल हम WordPress parent theme में भी सभी प्रकार के customization कर सकते है, पर parent theme में customization करने का एक नुक्सान यह हो सकता है कि, जब भी हम अपनी parent theme को update करेंगे तो उसमे बहुत सारे changes हट सकते है जो कि हम customization के टाइम कर चुके है|

इससे हमारी सारी करी कराई मेंहनत पर पानी फिर सकता है, और हमारी वेबसाइट का display अथवा presentaion गड़बड़ हो सकता है, जिसे हमें फिर से सही करना पड़ सकता है |

इससे दो बातें होंगी, एक यह कि हम अपनी theme को update करना छोड़ देंगे, पर ऐसा करने से हमारी वेबसाइट में बहुत सारे security patch हो सकते है और वेबसाइट में कई सारे trap point हो सकते है जिसका फायदा hackers उठा सकते है |

और दूसरी बात यह होगी कि हमें हर बार theme update करने के बाद फिर से पूरी वेबसाइट को अच्छे से देखना पड़ेगा कि कही कोई override के कारण हमारी कोई functionality disappear तो नहीं हो गयी है|

इन्ही सब परेशानियों से बचने के लिए हम Child theme का सहारा लेते है | Child theme create करने से हमें हमें यह फायदा होता है कि हम अपनी Child theme में कोई भी update कर सकते है, और हमारी parent theme भी सुरक्षित रहती है, और हम उसे time To time update भी बड़े आराम से कर सकते है, बिना इस बात कि चिंता किये कि इससे हमारी website में कोई फर्क तो नहीं पड़ेगा |

WordPress में Child theme create कैसे करते है ?/ how to create a child theme in WordPress step by step?

WordPress में Child theme create करना एक बहुत ही सिंपल प्रोसेस है | इसे बनाने के लिए आप निचे दिए गए प्रोसीजर को step by step फॉलो करें|

इसके लिए एक सबसे जरुरी चीज़ यह है कि आपके पास C -panel का access हो जहाँ से आप फाइल्स को एक्सेस कर पाए और नयी फाइल और फोल्डर क्रिएट कर पाएं| या फिर आपके पास FTP के लॉगिन क्रेडेंशियल हो जिससे आप file zilla जैसे सॉफ्टवेयर के माध्यम से फाइल और डायरेक्टरी ओपन कर पाए और क्रिएट कर पाए|

तो सबसे पहले आपको WordPress-Content->Themes Folder में जाके एक नया फोल्डर क्रिएट करना है, जो कि आपके Child theme के लिए होगा| आप इसका नाम कुछ भी रख सकते है, जैसे कि अगर हमारी parent theme demo है तो हम इसका नाम demo Child रख देते है, जिससे इसे पैरेंट थीम से child theme relate करने में आसानी होगी|

create child theme folder
create child theme folder
create file in demo child
create file in demo child

फोल्डर क्रिएट करने के बाद उसके अंदर हम एक फाइल क्रिएट करते है style.css और उस फाइल में निचे दिए हुए कोड को पेस्ट कर देते है | और इसे सेव कर देते है | यहाँ पर आपकी Child theme बन कर तैयार हो जाती है |

/*
Theme Name: Demo Child
Theme URL: http://yourdomain.com
Description: Demo Child
Theme Author: Your Name
Author URL: http://yourdomain.com
Template: Demo
Version: 1.0.0
Text Domain: Demo-child
*/

यह करने के बाद फाइनल step होता है इस स्टाइल शीट style.css को enqueue करने का| पहले इसके लिए @import का उसे किया जाता था जिसे हम style शीट के अंदर ही लिखते थे, पर अब इस procedure को recommend नहीं किया जाता क्योकि इस procedure में css को लोड होने में काफी टाइम लगता है, और इस बात कि भी पॉसिबिलिटी भी रहती है कि पैरेंट style sheet दो बार include न हो जाये|

इसलिए इन सब समस्याओं से बचने के लिए हम अब इस प्रोसेस को function file की हेल्प से करते है| हम एक functions.php फाइल क्रिएट करते है, और उसमे नीचे दिए कोड को पेस्ट कर देते है | इससे पैरेंट थीम और चाइल्ड थीम दोनों कतारबद्ध तरीके से arrange हो जाती है |

<?php
add_action( 'wp_enqueue_scripts', 'enqueue_parent_styles' );
function enqueue_parent_styles() {
   wp_enqueue_style( 'parent-style', get_template_directory_uri().'/style.css' );
}
?>

यहां पर हमारा काम समाप्त हो जाता है, और अब हम अपनी Child theme को WordPress admin panel में जाकर उसे activate कर सकते है |

Child theme में thumbnail image कैसे इन्सर्ट करे?

जैसे कि आप theme activate करते टाइम देखते है कि उनमे proper thumbnaiil image होती है , अगर आप अपनी Child theme में भी ऐसे ही इमेज रखना चाहते है तो यह एक बहुत ही simple process है |

आप एक इमेज create करिये जिसका dimension 880 X 660 pxl हो | और उसे screenshot.png से सेव कर लीजिये| और इसके बाद उस image को आप अपने Child theme Folder में paste कर दीजिये| और अब जब आप admin panel से theme पर जायेंगे तो आप Child theme में इस image को thumbnail के स्थान पर देखेंगे|

Child theme को activate कैसे करें?

वैसे तो बहुत से लोगो को यह process पता होगी, पर अगर किसी को नहीं भी पता है तो आपको बता दू कि आपको सबसे पहले WordPress admin panel में login करके जाना है | उसके बाद आपको apperance ->Themes में जाना है | यहाँ पर आपको अपनी Child theme दिखाई देगी, और उस पर दिए गए activate option से आप उसे activate कर सकते है |

इस ब्लॉग को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते a5theorys@gmail.com पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट ‘How to Create Child Theme In WordPress In Hindi?/ WordPress में Child theme कैसे क्रिएट करें?’ को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.