lan-vs-wan

Difference Between LAN and WAN In Hindi 2020.

हेलो दोस्तों, आज के इस ब्लॉग पोस्ट में मै आपको LAN और WAN के बीच में अंतर बताने वाला हूँ| LAN vs WAN: LAN stands for local area network, whereas WAN stands for wide area network.

LAN का एरिया बहुत ही छोटा होता है, जैसे कि कोई सिंगल बिल्डिंग या फिर कुछ बिल्डिंग का समूह, वही पर WAN एक बहुत बड़े एरिया को कवर करता है, जैसे कि कोई कंट्री या फिर महादीप | इनके अलग अलग ज्योग्राफिकल एरिया रेंज होने के कारण इनके technical solution bhi different होते है |

ज्यादातर LAN और उसमे जुड़े हुए डिवाइस का owner एक ही organization होता है, या ham कह सकते है कि आमतौर पर LAN और उसमे लगने वाले डिवाइस एक ही organization द्वारा setup कि jati है | जबकि WAN के case में ये बहुत ही काम होता है | a significant fraction of the नेटवर्क assets are not owned. This has two implications.

LANs का internal डाटा rates WANs से kahi jyada होता है|

LAN में सभी computer और peripherals एंड terminals आमतौर पर wire व coaxial cables द्वारा physically connected रहते है | जबकि WAN के case में हो सकता है कि computers के बीच में कोई physical connection न हो |

LAN में डाटा ट्रांसमिशन cost न के बराबर हो सकती है क्योकि ज्यादातर ट्रांसमिशन मध्यम user organization के होते है| जबकि, WAN के case में यह डाटा ट्रांसमिशन cost kafi high हो sakti है , kyoki इसमें यूज होने wale ट्रांसमिशन मध्यम या तो leased lines, public सिस्टम जैसे कि telephone, microwave और satalite links hoti है |

LAN में डाटा ट्रांसमिशन की error WAN से अपेक्षाकृत काम होती है| ऐसा इसलिए होता है क्योकि LAN में डाटा ट्रांसमिशन काम एरिया में होता है और WAN के case में डाटा ट्रांसमिशन एक बहुत बड़े एरिया में होता है|

इस ब्लॉग को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते a5theorys@gmail.com पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट ‘Difference between LAN and WAN In Hindi’ को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|