software-maintenance-feature-img

Software Maintenance Issues & Problem in Hindi? सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस मुद्दा और दिक्कते हिंदी में

हेलो दोस्तों, आज के इस ब्लॉग में मै आप सभी के साथ सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस(Software Maintenance)के मुद्दे को डिसकस करने वाला हूँ| जैसा की आप सभी लोग जानते है कि, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लाइफ साइकिल का सबसे आखिरी फेज मेंटेनेंस(Software Maintenance)होता है जहा पर हमें सॉफ्टवेयर में होने वाले अपडेट और एक्सिस्टिंग फंक्शनलिटी में होने वाली प्रॉब्लम को सही करना पड़ता है | इस सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस को हम कुछ हिस्सों में डिवाइड कर सकते है | सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस(Software Maintenance)में होने वाले प्रमुख मुद्दे निम्नलिखित है |

इस सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस को हम कुछ हिस्सों में डिवाइड कर सकते है | सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस(Software Maintenance)में होने वाले प्रमुख मुद्दे निम्नलिखित है |

Issues in Software Maintenance:

software-maintenance-issues
Issues In Software Maintenance

टेक्निकल: Technical

सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस(Software Maintenance) के तहत यह सबसे प्रमुख मुद्दा है| टेक्निकल मुद्दा कुछ इन बातों पर depend करता है जैसे कि सिस्टम कि सिमित समझ, टेस्टिंग, इम्पैक्ट एनालिसिस, maintainability |

मैनेजमेंट: Management

मैनेजमेंट issue में include होता है , ओर्गनइजेशनल issue , स्टाफिंग प्रॉब्लम, प्रोसेस issue , ओर्गनइजेशनल स्ट्रक्चर, आउटसोर्सिंग |

कॉस्ट एस्टिमेशन: Cost Estimation

सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस(Software Maintenance) प्रोसेस में यह एक बड़े और प्रमुख मुद्दों में से एक है | यह मुद्दा कॉस्ट और प्रोजेक्ट एक्सपीरियंस पर depend करता है|

सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस मेज़रमेंट: Software maintenance measurement

सॉफ्टवेयर मेज़रमेंट फैक्टर जैसे कि साइज एफर्ट, schedule , क्वालिटी, understandability , रिसोर्स यूटिलाइजेशन, डिज़ाइन complexity , रिलायबिलिटी एंड फाल्ट टाइप डिस्ट्रीब्यूशन.

सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस कि प्रमुख समस्याएं: Problems in Software Maintenance

सॉफ्टवेयर में जो भी बदलाव होते रहते है उनका ठीक तरह से डॉक्यूमेंटेशन नही किया जाता है| इसकी बजह से सॉफ्टवेयर के क्रमागत उन्नति को ट्रेस कर पाना मुश्किल हो जाता है जब सॉफ्टवेयर के बहुत सरे रिलीज़ अथवा versions आ जाते है| this cause creates problem in software maintenance.

कई बार तो सॉफ्टवेयर कि उस प्रोसेस का पता लगाना मुश्किल पड़ जाता है जिससे उसे बनाया गया था |

सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस प्रोसेस में सबसे बड़ी मुश्किल तब होती है, जब हमें दूसरे के लिखे प्रोग्राम को समझना पड़ता है |
बहुत सरे सॉफ्टवेयर में बदलाव कि कोई गुंजाइस नहीं होती या फिर वो किसी बदलाव के लिए बनाये ही नहीं जाते| उन्हें तो सिर्फ रिडिजाइन किया जाता है |

सॉफ्टवेयर में unstructured कोड होते है |

जो मेंटेनेंस(Software Maintenance)करने वाले प्रोग्रामर होते है, उन्हें सिस्टम अथवा प्रॉब्लम डोमेन कि पूरी जानकारी ही नहीं होती.

सॉफ्टवेयर का प्रयाप्त डॉक्यूमेंटेशन नहीं होता|

ज्यादातर डेवेलपर्स को मेंटेनन्स(Software Maintenance)का काम ही पसंद नहीं होता|

इस ब्लॉग को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते a5theorys@gmail.com पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट ‘software Maintenance and problems in software maintenance’को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|