6 Months Day and 6 Month Night In North And South Pole|6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर ?

हेलो दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट(6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर) में हम आपको एक बहुत ही इंटरेस्टिंग जानकारी बताने जा रहे है |

दोस्तों आप में से बहुत से लोगो ने यह बात जरूर सुनी या पढ़ी होगी कि हमारी पृथ्वी पर कुछ हिस्से ऐसे भी है जहाँ पर 6 महीने के दिन और 6 महीने की रात होती है |6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर|

आप में से बहुत से लोग आश्चर्य में पड़ जाते होंगे की ऐसे हिस्से कौन से होते है जहाँ पर इतने लम्बे लम्बे दिन और रात होते है ?/6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर?

तो दोस्तों यह हिस्से होते है North pole(उत्तरी ध्रुव) और south pole(दक्षिणी ध्रुव), वैसे तो दोस्तों यह दोनों ही जगह बहुत ठंडी होती है, यहाँ पर आम जीवन संभव नहीं होता है और अक्सर यह बर्फ की मोटी चादर से ढकी होती है |

पर फिर भी इन ध्रुवों के आस पास कुछ countries बसे है और समय समय पर यह countries इन ध्रुवों की जमीन पर अपना अपना claim करते रहते है |

अगर हम इन ध्रुवों के core reasons की बात करें तो इस जगह पर कोई भी जीवन नहीं है यहाँ पर केवल बर्फ ही बर्फ है | और यहाँ पर ऐसे कोई भी कंडीशन नहीं है कि लोग यहाँ पर रह सके|

पर हाँ ध्रुवों से थोड़ा दूर जाने पर कुछ कुछ कन्ट्रीज आपको देखने को मिल जाएगी, पर यहाँ पर भी बहुत काम population रहती है |

अगर हम नार्थ पोल की बात करें तो यह रीज़न arctic reason कहलाता है | और यह बर्फ से ढकी जगह आर्कटिक महासागर से घिरी हुई है, जिसका आधे से ज्यादा हिस्सा तो ज्यादातर समय बर्फ में तब्दील रहता है |

यह हिस्सा पूरी तरह से पानी पर तैरता हुआ एक बर्फ का बहुत बड़ा हिस्सा है और इस पार्ट में कोई भी जमीन नहीं है | आप तो बस यह समझ लो कि आर्कटिक महासागर में बर्फ का एक बहुत बड़ा हिस्सा तैर रहा है |

और ग्लोबल वार्मिंग के असर के कारण यह हिस्सा बहुत तेज़ी के साथ पिघल रहा है जिससे पानी का स्तर बढ़ रहा है |

इस ध्रुव क्षेत्र में कुछ जीव जंतु भी रहते है जो यहाँ के वातावरण के अनुसार अनुकूलित है | यहाँ के मुख्य जानवर है Arctic fox, Arctic hares, seals, walrus, caribou, reindeer, musk ox, lemmings, squirrels, many species of birds, and of course, polar bears |

नार्थ पोल के center से अगर हम कुछ दूरी पर देखे तो यहाँ पर कुछ देश बसे हुए है | और इन देशो में norway , डेनमार्क, कनाडा, रूस, US इनमे से कुछ देश है या फिर देश के कुछ सुदूर हिस्से है |

अब अगर south pole की बात करें तो साउथ पोल को हम अंटार्टिका महाद्वीप के नाम से भी जानते है | यह भी बर्फ की एक मोटी चादर है और एक बहुत बड़े हिस्से में फैली है |

और इसके चारो तरफ अंटार्टिका महासागर है | जिसके किनारे का एक बहुत बड़ा हिस्सा बर्फ में जमा रहता है एक बहुत लम्बे समय के लिए |

south pole में भी कोई जीवन संभव नहीं है, इस पोल के आसपास पड़ने वाले कन्ट्रीज है Argentina, Australia, Chile, France, New Zealand, and the United किंगडम, etc|

और समय समय पर यह सभी countries इस महाद्वीप की जमीन पर अपना अपना claim करती रही है |

वैसे तो अंटार्टिका महादीप में कोई भी नहीं रहता है | पर रिसर्च के purpose से अब यहाँ पर कई कन्ट्रीज के बहुत थोड़े scientist अपना बेस कैंप बनाकर रह रहे है और इस जगह पर बर्फ को ड्रिल करके अपनी खोज को कर रहे है |

और हाँ गर्मियों के सीजन में अब यहाँ पर कुछ tourist लोग भी आ रहे है क्योकि यहाँ पर अब फ्लाइट्स और शिप्स का गर्मियों के दिनों में आना थोड़ा आसान है |

इस महाद्वीप में बर्फ के अलावा कुछ जमीनी हिस्सा भी है जहाँ पर आप पहाड़ और चट्टान देख सकते है | और यहाँ पर भी कुछ जीव जंतु रहते है, जो यहाँ के वातावरण से अनुकूलित है | यहाँ के मुख्य जानवर है penguins, whales seals, albatrosses, other seabirds etc |

दोस्तों अभी तक हमने यह जाना कि यह north pole और south pole होते क्या है |

अब हम यह जानेगे कि नार्थ पोल और साउथ पोल में 6 महीने की दिन और रात कैसे होती है?

दोस्तों हम सभी जानते है की हमारी पृथ्वी सूर्य के चारो और चक्कर लगाती है | और यह 24 घंटे में अपनी धुरी पर एक चक्कर लगाती है | और एक साल में सूरज का एक चक्कर पूरा करती है |

वैसे तो होना तो यह चाहिए की पृथ्वी पर जितनी भी जगह है वहां पर 12 -12 घंटे के सामान्य दिन और रात होने चाहिए |

पर दोस्तों actual में ऐसा नहीं होता है | और ऐसा इसलिए नहीं होता है क्योकि हमारी पृथ्वी अपने अक्ष पर सीधी नहीं घूमती है |

बल्कि यह अपने अक्ष पर 23 .4 डिग्री का कोण बनाती है, और यही मुख्य कारण होता है की इन north pole और south pole पर 6 महीने की दिन और रात होती है |

आप नीचे दी गयी इमेज में साफ़ साफ़ देख सकते है कि जब पृथ्वी सूर्य का चक्कर लगा रही होती है है तब इसका एक हिस्सा फिर चाहे वो नार्थ पोल हो या साउथ पोल हो उसकी रोशनी से बिलकुल ही छिपा रहता है | और यह पृथ्वी के झुके होने के कारण होता है |

dhruvon par 6 mahine din aur 6 mahine raat kyo hoti hai
dhruvon par 6 mahine din aur 6 mahine raat kyo hoti hai

और 6 महीने बाद यह पोजीशन चेंज हो जाती है और जिस हिस्से में दिन होता है वहां पर रात होना चालू हो जाती है | और जिन हिस्सों में रात होती है वहां पर दिन होना चालू हो जाता है |

पर दोस्तों ऐसा बिलकुल नहीं है की नार्थ पोल अथवा साउथ पोल के हर हिस्से में 6 महीने के दिन और रात चलते है | बल्कि पोल के center में यह समय 6 महीने का होता है|

पर जैसे ही हम पोल से दूर जाते जाते है वैसे वैसे यह समय 5 महीने, 4 महीने, 3 महीने, 2 महीने, 1 महीने, 15 दिन, 7 दिन, में परिवर्तित होता जाता है | और बहुत सी जगह ऐसे भी होती है जहाँ एक ही दिन में कई बार जल्दी जल्दी रात और दिन देखने को मिल जाते है |

तो यह 6 महीने की दिन और रात वाली जो बात है वो केवल poles के center point area के लिए ही उचित है |6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर|

इस ब्लॉग(6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|6 महीने के दिन और रात कैसे होते है North और South poles पर|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.