Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi.

हेलो दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट(Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi) में मैं आपको दो ऐसे PHP based MVC framework के बारे में हिंदी में बताने वाला हूँ जिनका आज कल बहुत से लोग web application develop करने के लिए उपयोग करते है |

एक का नाम है codeigniter और दूसरे का नाम है laravel | दोनों ही PHP framework है जो कि MVC architecture को सपोर्ट करते है | पर इन दोनों framework में कुछ छोटे छोटे डिफरेंस होते है जिन्हे आप आज के इस ब्लॉग पोस्ट में देखने वाले है |Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi|

Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi:

Laravel :

लारवेल(Laravel) जो है वो एक php based framework है और इसे 2011 में taylor otwell ने डेवेलोप किया था | यह फ्रेम वर्क एक open source framework है मतलब कि लोग इसे फ्री में use कर सकते है |

और यह php web framework web application develop करने के लिए MVC pattern की facility प्रोवाइड करवाता है अथवा MVC architecture को सपोर्ट करता है |

इस फ्रेमवर्क का उपयोग ज्यादातर modest और full featured web application को डेवेलोप करने के लिए किया जाता है | laravel framework को खुद php में लिखा गया है और इसका उपयोग web development के backend side में किया जाता है |

Laravel framework के कुछ important फीचर्स:

  1. Template Engine.
  2. MVC Architecture Support.
  3. Eloquent ORM (Object Relational Mapping).
  4. Security.
  5. Artisan.
  6. Libraries & Modular.
  7. Database Migration System.
  8. Unit-Testing.

Codeigniter :

codeigniter भी एक php based framework है | इसे 2006 में ब्रिटिश कोलंबिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी द्वारा develop किया गया था | और इसके जो ओरिजिनल ऑथर है वो एक सॉफ्टवेयर कंपनी है Ellislab | यह एक ओपन सोर्स फ्रेमवर्क है और इस फ्रेमवर्क का उपयोग वेब एप्लीकेशन develop करने के लिए किया जाता है | जो डेवलपर वेबसाइट develop करने का काम करते है वो codeigniter को एक टूलकिट की तरह इस्तेमाल करते है | codeigniter भी MVC (model , View , Controller) पैटर्न को सपोर्ट करता है |

Codeigniter फरमेवर्क के कुछ important फीचर्स:

  1. Model-View-Controller Based System.
  2. Extremely Light Weight.
  3. Query Builder Database Support.
  4. Form and Data Validation.
  5. Security and XSS Filtering.
  6. Session Management.
  7. Email Sending Class.

Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi in tabular form:

Basis OfLaravelCodeigniter
Database ModelLaravel जो है वो ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड मॉडल है |Codeigniter जो है वो एक रिलेशनल ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड मॉडल है |
Built-In Modellaravel में बहुत सारे बिल्ट-इन मॉडल रहते है |codeigniter में बिल्ट-इन मॉडल नहीं रहते है |
Structure laravel जो है वो MVC स्ट्रक्चर को फॉलो करता है जिसमे कमांड लाइन टूल की मदद से इंस्ट्रक्शन को एक्सेक्यूटे करते है जिसे हम artisan भी कहते है |codeigniter भी MVC structure को फॉलो करता है | पर यहाँ पर object oriented programming की मदद से boarding थोड़ी आसान होती है |
Development and Templatelaravel जो है वो blade template engine के साथ आता है और यह फ्रंट एन्ड डेवलपर के लिए बहुत ही अच्छा होता है |codeigniter का उपयोग थोड़ा सरल होता है पर इसमें किसी भी प्रकार का टेम्पलेट इंजन नहीं होता है |
Librarieslaravel अपने खुद के official documents provide करती है जिससे development में बहुत ही हेल्प मिल जाती है |codeigniter में बहुत सारी बिल्ट-इन फंक्शनलिटी होती है जो कि डेवलपमेंट में मदद करती है |
Utilized Bylaravel को Laracasts, octoberCMS द्वारा utilize किया जाता है |कोडिगनिटेर को Expression engine , PyroCMS के द्वारा utilize किया जाता है |
Latest Versionlaravel का लेटेस्ट वर्शन है 5.5LTScodeigniter का लेटेस्ट वर्शन है 3.15LTS
Routinglaravel जो है वो explicit routing को सपोर्ट करता है |codeigniter जो है explicit और implicit रूटिंग दोनों को सपोर्ट करता है |
Support of other DBMS
ORACLE, Microsoft SQL Server, IBM DB2, MYSQL, PostgreSQL oriented, and JDBC compatible.MySQL, PostgreSQL, Microsoft BI, and MongoDB. But CodeIgniter additionally supports other popular databases like Microsoft SQL Server, Oracle, DB2, and others.
Popularities and current trendlaravel अपनी popularities के peak पर चल रहा है | अपनी expressive स्टाइल और बहुत सारे built -in features के कारण लारवेल को आज बहुत सारे seasoned developers पसंद करते है |codeigniter का उपयोग करना बहुत ही आसान है | इसलिए बहुत सारे web developer codeigniter को prefer करते है |
Authenticationlaravel के अंदर authentication के लिए built -इन classes और features रहते है | जिससे कि developer इसके लिए अलग से custom कोड लिखने से बच जाता है |पर codeigniter के case में ऐसा कुछ भी नहीं होता है और इसलिए developer को authentication functionality develop करने के लिए custom code लिखना पड़ता है |
Difference between laravel and codeignitor in hindi

Conclusion:

तो दोस्तों आज के इस ब्लॉग(Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi) पोस्ट में हमने दो important PHP based framework को समझा और उनके बीच अंतर को देखा| laravel और codeigniter ऐसे ही दो PHP based MVC framework है जिनका उपयोग web application को develop करने के लिए करते है | लारवेल आज कल बहुत ही पॉपुलर फरमेवर्क है जिसका उपयोग सभी seasoned developer करते है | laravel अपने साथ बहुत सारी built -in functionality रखता है जैसे कि यहाँ पर आपको authentication functionality के लिए custom code नहीं लिखने पड़ते है | पर codeigniter में ऐसे कोई भी बिल्ट-इन फीचर्स नहीं होते है पर codeigniter बहुत ही easy होता है किसी भी डेवलपर के लिए कोड करना | इसलिए बहुत सारे वेब डेवलपर वेब एप्लीकेशन को develop करने के लिए codeigniter का उपयोग करते है |

इस ब्लॉग(Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(Difference Between Codeigniter And Laravel In Hindi) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *