Third Normal Form In DBMS In Hindi?

हेलो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(Third Normal Form In DBMS In Hindi) में मैं आपको third Normal form के बारे में हिंदी में विस्तार से बताने वाला हूँ | कोई भी रिलेशन third Normal form में तब होता है जब वह Second Normal form में हो |

और सभी non key attributes transitively dependent हो primary key पर| कहने का मतलब यह है कि x(primary key) -> y and y->z then x->z|

तो यहाँ पर Z सो है वो X पर transitively dependent है | और 3NF की definition के अनुसार ऐसे रिलेशन होना जरुरी है | Third Normal Form In DBMS In Hindi|

किसी भी रिलेशन को 2NF से 3 NF में कन्वर्ट करने के प्रोसीजर:Third Normal Form In DBMS In Hindi : –

सबसे पहले तो non -key attributes को ढूंढो और उनकी मदद से कुछ और को ढूंढो करो |Third Normal Form In DBMS In Hindi|

अलग अलग relation को फॉर्म करिये और सबसे पहले को primary के बनाइये |

और ऊपर दिए गए स्टेप्स की मदद से transitivity को avoid करिये |

FD-diagram-in-3NF
FD-Diagram in 3NF:Third Normal Form In DBMS In Hindi

ऊपर example में हमें एक relation S दिया गया है | और उसके according हम नीचे दिए कुछ functional dependency create कर सकते है |Third Normal Form In DBMS In Hindi|

S#->City
City->Status
S#-> Status

तो यहाँ पर हम transitivity देख सकते है | जबकि P और SP रिलेशन में ऐसा कुछ देखने को नहीं मिलता है |

तो पहले स्टेप को follow करते हुए हमें सबसे पहले non -key attribute follow करना है और इसके बाद इनकी मदद से कुछ और non -key attribute find करना है | तो यहाँ given रिलेशन में सिटी एक non -key attribute है और इसके द्वारा एक status non -key attribute को भी हम find करते है | इसका मतलब यह है कि सिटी की किसी भी equal वैल्यू के लिए status की वैल्यू भी equal होगी |

इस रिलेशन को कुछ हम निम्नलिखित तरीके से दिखा सकते है |

Relation SC

S#City
S1Paris
S2London
S3Italy
S4India
S5Paris

Relation CS

CityStatus
Paris10
London20
Italy30
India40

Relation SP

S#P#Qty
S1P1300
S1P2100
S2P3500
S3P4200
S3P1450
S4P5400
S5P2250

Relation P

P#Pname`Color
P1BulbPink
P2TubesYellow
P3FanGreen
P4CoolerBlack
P5LampWhite

3NF का advantage यह है कि अब हम वह सब प्रॉब्लम फेस नहीं करते है जो कि हम 2NF में फेस कर रहे होते है | और इसका solution नीचे विस्तार से समझाया गया है |


Insert:

relation CS में हम एक tuple इन्सर्ट कर सकते है जो कि यह indicate करेगा कि एक particular सिटी एक particular status रखती है |

Delete:

अगर हम SC रिलेशन से किसी भी tuple को delete कर देते है तो भी हम city status जहाँ पर supplier रहता है कि information loose नहीं करते है |

example के लिए अगर हम SC relation से Second tuple को delete भी कर दे तो भी हमें यह पता रहता है कि सिटी लंदन का status 20 है |

Update:

अगर आप किसी भी city का status अपडेट करना चाहते है तो फिर अब आपको CS relation में सिर्फ एक ही tuple update करना होगा|

example के लिए अगर हम लंदन सिटी का स्टेटस 20 से 50 update करना चाहते है तो फिर हमें अब सिर्फ एक ही tuple को अपडेट करना पड़ेगा CS रिलेशन में|

पर 3NF में भी प्रोब्लेम्स पूरी तरह से solve नहीं होती है | और अभी भी कुछ प्रॉब्लम आ सकती है डेटाबेस में ऑपरेशन परफॉर्म करने के दौरान| और अब इन समस्याओं को दूर करने के लिए हम डाटा अथवा रिलेशन को और आगे तक normalize करते है |

Normalization से रिलेटेड कुछ important blogs आप नीचे दी गयी ब्लॉग लिंक की सहायता से पढ़ सकते है |

What is Normalization and why is it needed?

What is 1NF in DBMS?

What is 2NF in DBMS?

What is BCNF in DBMS?

Third Normal Form In DBMS In Hindi?

Second Normal Form In DBMS In Hindi?

First Normal Form In Dbms In Hindi?

Conclusion:

तो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(Third Normal Form In DBMS In Hindi) में हमने 3NF third Normal formal को स्टडी किया | जो भी रिलेशन third Normal formal में होता है वो 2 NF में जरूर होता है और सभी non -key attributes primary key पर transitively dependent होते है | 2NF में insert , delete और update जितनी भी anomaly होती है उन्हें हम third Normal formal में सही करते है | हलाकि अभी भी रिलेशन को पूरी तरह normalize नहीं मान जा सकता है | और इसकी यह प्रॉब्लम को solve करने के लिए हमें अभी और भी further normalization करने की जरुरत है |

इस ब्लॉग(Third Normal Form In DBMS In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(Third Normal Form In DBMS In Hindi) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *