Types Of Inheritance In Hindi?|

Hello दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट(Types Of Inheritance In Hindi) में मैं आपको Inheritance और उसके प्रकार के बारे में हिंदी में बताने जा रहा हूँ | Inheritance oops concept में से एक महत्वपूर्ण कांसेप्ट है | अगर अगर आपने oops concepts को कभी भी पढ़ा है तो आप इस Inheritance के concept से भलीभांति परिचित होंगे | तो चलिए एक एक करके इनहेरिटेंस(Inheritance) से रिलेटेड सभी questions के answers को देखते है |

इनहेरिटेंस(Inheritance) का कांसेप्ट क्या है ?|Types Of Inheritance In Hindi?

base class की प्रॉपर्टीज को derived class में use करने को Inheritance कहते है | हो सकता है इस technical डेफिनिशन से आप लोगो को कुछ ज्यादा न समझ न आ पाया हो |Types Of Inheritance In Hindi|

तो आसान भाषा में इसे समझते है, अगर हमने एक क्लास में कुछ functions अथवा वेरिएबल को डिफाइन कर दिया है और अब हम अगर किसी दूसरी क्लास अथवा derived class में इस class के functions और variable को बिना दुबारा लिखे use करना चाहते है तो फिर हम यहाँ पर Inheritance के जरिये उस क्लास के सभी प्रॉपर्टीज को यानि फंक्शन और वैरबाले को एक्सेस कर सकते है |

Inheritance से हमें यह फायदा हो जाता है की हमें एक ही टाइप के functions अथवा properties को बार बार नहीं लिखना पड़ता है | और उसे हम एक ही class में एक बार लिख कर बाकी सभी class जिसमे फंक्शन्स की जरुरत है में उसे use कर लेते है | और किसी भी क्लास को inherit करने के लिए हम extend keyword का से करते है |

अब हम बात करते है Inheritance के प्रकार की | Inheritance के २ मुख्य प्रकार होते है जो की नीचे निम्नलिखित है :

सिंगल इनहेरिटेंस(Single Inheritance)
मल्टीप्ल इनहेरिटेंस(Multiple Inheritance)

single Inheritance :

single Inheritance में एक ही super class होती है और एक या एक से अधिक subclass हो सकती है | example आप नीचे देख सकते है |

single inheritance example
single inheritance example

Multiple inheritance :

Multiple Inheritance में एक या एक से अधिक super class हो सकती है | और यहाँ पर एक या एक से अधिक subclass भी हो सकती है | ऐसे टाइप के Inheritance को हम Multiple Inheritance कहते है और इसके example आप नीचे देख सकते है |

multiple inheritance example
multiple inheritance example

जावा के अंदर केवल single Inheritance होता है, जबकि जावा में Multiple Inheritance नहीं होता है | और इसके कुछ कारण नीचे दिए गए है |

जैसे की आप नीचे दिए example में देख सकते है है क्लास A के पास एक मेंबर है x और क्लास B के पास भी एक मेंबर है x और इन दोनों क्लास को क्लास C inherit करती है और अब confusion यह रहता है की क्लास C के पास जो x की कॉपी है वो क्लास A की है या क्लास B की?

Which copy of x is in class c
Which copy of x is in class c?

C ++ language में Multiple Inheritance होता है जबकि जावा में नहीं होता है | और यही बात java programmer को कभी कभी परेशान कर देती है, क्योकि कभी कभी जावा प्रोग्रामर को भी Multiple Inheritance का उपयोग करने की जरुरत पड़ जाती है |

पर इसके लिए जावा सॉफ्ट प्रोग्रामर्स द्वारा एक solution already सभी जावा users को दिया गया है और वो है interface , जावा users interface का उपयोग करके Multiple Inheritance की कमी को पूरा कर सकते है | और java programmer एक बार में कई सारे interface को implement कर सकते है जैसे कि नीचे दिए गए example में दिखाया गया है |

यहाँ पर myclass में interface1 और interafce2 के सभी मेंबर्स excessible है | और इसी तरह हम जावा में Multiple Inheritance की कमी को पूरा करते है | पर एक्चुअल में देखा जाये तो interface Multiple Inheritance के जितना इफेक्टिव और फ्लेक्सिबल नहीं है | mutiple Inheritance में हम पूरी class को access कर सकते है जिसमे method और और उनकी पूरी definition रहती है | पर interface में सिर्फ मेथड्स declare रहते है पर उन्हें define हमें करना पड़ता है बाद में अपने हिसाब से | इसलिए एक तरह से देखा जाये तो इंटरफ़ेस मल्टीप्ल इनहेरिटेंस जितना इफेक्टिव तो नहीं है java में |

Conclusion:

तो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(Types Of Inheritance In Hindi) में हमने java में Inheritance और और उसके प्रकार के बारे में जाना और समझा | Inheritance की मदद से हम एक base class अथवा super class में डिफाइन किये गए मेंबर और मेंबर फंक्शन को किसी अन्य क्लास में बिना दुबारा डिफाइन किये हुए use कर सकते है | इसके मुख्य दो प्रकार होते है | एक होता है single Inheritance और दूसरा होता है Multiple Inheritance | java में केवल single Inheritance ही होता है | जबकि Multiple Inheritance की कमी को जावा में हम interface के द्वारा cover करते है |

इस ब्लॉग(Types Of Inheritance In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(Types Of Inheritance In Hindi) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.