Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi? Delivery trading और Intraday trading के बीच में क्या अंतर होता है ?/ What are the differences between Delivery trading and Intraday trading?

Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi: हेलो दोस्तों, आज के इस ब्लॉग पोस्ट(Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi) में मैं आपको delivery trading और intraday trading के बीच difference बताने जा रहा हूँ | Share market में trading करके पैसा कामना एक बहुत अच्छा साधन है | पर trading करने से पहले trading से जुड़े कुछ important terms जान लेना जरुरी है जैसे कि intraday trading and delivery trading |

इस ब्लॉग पोस्ट(Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi) के माध्यम से हम एक तो intraday trading और delivery trading में अंतर जानेगे और दूसरा trading से related कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नो को discuss करेंगे जैसे कि What is delivery and intraday trade? Can I convert delivery to intraday?…

…Is intraday trading is profitable? Is intraday trading safe? Can I sell intraday share the next day? What is margin delivery intraday? Which broker is best for delivery trading? Which is the best intraday tips, provider?….|Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi|

…What is the advantage of intraday trading? What is the difference between intraday and cash? When can I buy intraday shares? Can I sell delivery shares on the same day Zerodha? What is an intraday trading example?|Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi|

तो चलिए सबसे पहले हम देखते है कि intraday trading और delivery trading में क्या अंतर होता है/ What is delivery and intraday trade?/ Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi

Intraday trading के अंतर्गत हम share को एक ही दिन में purchase करते है और उसी दिन market khatam होने से पहले उसे sell कर देते है |

आमतौर पर intraday traders share को परचेस करते समय एक selling target fix कर देते है और जब share का price उस टारगेट तक पहुँच जाता है तो वो share automatic sell हो जाता है |

पर अगर market ख़तम होने से पहले अगर trader को यह लगता है कि उसका share target sell price तक नहीं पहुँच पायेगा तो trader उस share को पहले ही किसी भी best possible price पर sell कर देते है |

For example : मैंने monday के दिन सुबह share market चालू होने के बाद एक कंपनी A के 50 शेयर ख़रीदे जिसकी एक share की कीमत 10 रुपया है, जिसका टोटल 500 रुपया हुआ और मैंने 20 रुपया पर एक target order और sell order भी सेट कर दिया, अब मै अगले कुछ घंटे तक market को analysis करूँगा और देखूगा कि share की कीमत 20 रुपया पहुँच पाती है या नहीं |

अगर share की कीमत 20 रुपया market ख़तम होने से पहले पहुँच जाती है तो मेरा sell order autoamtic execute हो जायेगा और मुझे टोटल 1000 रुपया मिला जाएगा, तो यहाँ पर मुझे 500 रुपया का प्रॉफिट हो जाता है |

पर अगर market khatam होने से पहले मुझे लगता है कि मै अपने टारगेट share price तक नहीं पहुँच पाऊंगा तो मैं खुद ही किसी भी best possible price पर अपने share को sell कर दूंगा जैसे कि मैंने देखा कि बीच में शेयर की प्राइस 17 या 18 रुपया पहुँच गयी है तो और यह तेज़ी से ऊपर और नीचे fluctuate हो रही है तो मै फिर share की प्राइस 18 रुपया पहुंचते ही इसे sell कर दूंगा |

अगर मैं ऐसा नहीं करूँगा तो market ख़तम होने पर share की जो price होगी उसी पर मेरा आर्डर automatic sell हो जायेगा |

जबकि इसके दूसरी तरफ Delivery trading में हम share को जब भी purchase करते है वो share उसी टाइम हमारे Demat account में hold हो जाते है | और यहाँ पर आप अपने share के पूरी तरह से मालिक होते है | यहाँ पर आप जब तक चाहे अपने share को hold करके रख सकते है और जब चाहे उसे sell कर सकते है |

Delivery trading में भी आप purchase order और sell order को एक टारगेट पर set कर सकते हो और जैसे ही share की price उस target तक पहुँचती है आपका purchase order और sell order automatic execute हो जाता है, पर अगर आप target से पहले ही share को sell करना चाह रहे है तो भी आप उसे एक बेस्ट profitable price पर sell कर सकते है |

Delivery trading में intraday trading की तरह टाइम की कोई boundation नहीं होती है जहाँ पर share को एक ही दिन के अंदर खरीदना और बेचना पड़े, यहाँ पर आप अपने मन मुताबिक अपने share को किसी भी टाइम पर बेच सकते हो, नहीं तो आपके share जब तक आपके Demat account में होल्ड रहेंगे |

Intraday trading और Delivery trading के बीच के difference को और अच्छे से समझने के लिए हमें उनके Advantages और disadvantages के बारे में जानना पड़ेगा |

Intraday trading के advantages क्या क्या है?/ Advantage of Intraday trading:

Less Money & High Investment:

Intraday trading के अंदर आप कम पैसे में भी high price share को खरीद सकते है, इसके लिए आप margin fund का उपयोग कर सकते है | यहाँ पर आप कुछ पैसा अपना लगाकर और कुछ पैसा आपके broker से उधार अथवा margin ले कर एक बड़ा और हाई performing share को परचेस कर सकते हो, और इससे अच्छा खासा प्रॉफिट कमा सकते हो|

High Liquidity:

Intraday trading में share की purchase और selling एक ही दिन में करनी होती है | और इसके कारण सभी traders market को constantly observe करते है, क्योकि share price Generally तेज़ी से fluctuate करती है या कर सकती है , और जैसे ही price एक बहुत ही अच्छे प्रॉफिट पर पहुंचती है वैसे ही traders अपना sell order सेट कर देते है |

Less Brokerage charges:

आमतौर पर Intraday trading में brokerage charges कम लगता है delivery trading की अपेक्षा|

No Overnight risk:

Intraday trading में purchase और selling सब कुछ market khatam होने के पहले हो जाता है, इसलिए यहाँ पर थोड़ा सा रिस्क कम हो जाता है, क्योकि share market में कुछ ही घंटो में किसी भी कंपनी की स्थिति बदल सकती है |

Disadvantages of Intraday trading/ Intraday trading के disadvantages क्या क्या है?:

High risk of loss:

Intraday trading में loss का रिस्क तो हमेशा ही बना रहता है, एक तो यहाँ पर टाइम विंडो बहुत लिमिटेड होती है, मतलब कि जो भी होना है एक ही दिन में होना है | जैसे कि अपने मार्किट शुरू होने पर एक कंपनी के share ले लिए और फिर उस कंपनी कि स्थिति एक घंटे बाद बहुत ही डाउन होने लगती है, तब ऐसी स्थिति में आपको loss होने के चांस बहुत ज्यादा बढ़ जाते है | और time duration कम होने से आप इसे रिकवर भी नहीं कर सकते है |

Frequent monitoring:

Intraday trading में आपको market close होने से पहले तक अपने share को बहुत बारीकी से मॉनिटर करना पड़ता है, इसके लिए आपको कई सारे मार्केट एनालिसिस चार्ट की भी मदद लेनी पड़ सकती है | और आपको उस best position को लॉक करना पड़ता है जहाँ पर प्रॉफिट अपने peak पर हो या फिर बहुत ही आस पास | ये सब करने के लिए थोड़ा टेक्निकल स्किल और मार्किट रिपोर्ट्स analysis स्किल का होना भी बहुत ही जरुरी है |

No Corporate profit:

जैसे कि Intraday trading में traders अपने stocks कि Delivery नहीं लेते है और न ही वे इसके मालिक होते है, इसलिए वे कंपनी द्वारा प्रोवाइड किये जाने वाले divident payment और कुछ अन्य bonus का भी लाभ नहीं ले पाते है |

Advantages of Delivery trading/ Delivery trading के advantages क्या क्या है ?:

Unlimited time:

Delivery trading कि सबसे खास बात यही है कि यहाँ पर shares और stocks को होल्ड करने कि कोई टाइम लिमिट नहीं है | आप अपने share को एक दिन से ले कर महीनो तक hold कर सकते है | और जब आपको लगे कि अब share या stock अपने peak प्राइस पर है तब आप उसे sell कर सकते है |

Limited losses:

Delivery trading में कोई भी share purchase करते समय trader उसकी पूरी कीमत pay करता है, तो इस कंडीशन में अगर share की performance down रहती है तो भी यह केबल trader की purchase value तक ही सिमित रहती है | पर Intraday trading में अगर आपने ब्रोकर मार्जिन ले रखा है तो फिर आपको उसका भी अमाउंट कुछ इंटरेस्ट के साथ देना पड़ता है | तो इस लिहाज़ से Delivery tarding में थोड़ा यह सुकून रहता है |

Corporate benefits:

Delivery trading में ट्रेडर share को खरीद कर कंपनी का एक पार्ट हो जाता है | इसलिए यहाँ पर उसे कंपनी द्वारा डिविडेंट फण्ड और इंटरेस्ट मिल जाता है | और हाँ traders को बोनस मिलने के भी चांस रहते है | तो Delivery trading में कंपनी का हिस्सा बनकर आप कंपनी द्वारा दिए जाने वाले अनेको लाभ ले सकते हो |

Disadvantages of Delivery trading/ Delivery trading के disadvantages क्या क्या है ?:

Less Liquidity:

Delivery trading में हम Intraday trading की तरह margin funding की facility का use नहीं कर सकते है, Delivery trading में हमें share की price और quantity के हिसाब से पूरा पैसा एक बार में pay करना होता है | और इससे हमारा पूरा पैसा जब तक के लिए block हो जाता है जब तक कि हम अपने shares को sell न कर दे|

No Leverage:

Delivery trading में हम उतना ही खरीद सकते है जितना कि हमारे पास पैसा है, यहाँ पर हमें कोई extra money benefit नहीं होता है और न ही किसी तरह का margin मिलता है जिससे कि हम कोई higher value shares को परचेस कर पाएं| इसलिए यहाँ पर high return के chance भी बहुत कम होते है |

Quick Q&A: Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi

Which is best trading intraday or delivery?/ Intraday trading और Delivery trading में कौन सी बेस्ट है?/ Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi?

वैसे तो दोनों Intraday ट्रेडिंग और Delivery ट्रेडिंग का अपना अपना महत्व है | जैसे की short term में पैसा कमाने के लिए Intraday best है और long time में पैसा कमाने के लिए Delivery trading बेस्ट है | पर अगर रिस्क के फैक्टर से देखा जाये तो Delivery trading में risk कम होता है और Intraday trading में रिस्क थोड़ा ज्यादा होता है |

Can I convert delivery to intraday?/ क्या हम Delivery trade को Intraday trade में convert कर सकते है?

हाँ आप Delivery trade को Intraday trade में convert कर सकते है, इसके लिए आपको ट्रेड बुक आर्डर में जाकर order type चेंज करना पड़ेगा |

Is intraday trading is profitable?/ क्या Intraday trading profitable है?

Intraday trading में आप stocks अथवा share की purchase और sell एक ही दिन में करते है, जैसा की हम जानते है कि market बहुत ही volatile होता है और कभी भी ऊपर और नीचे जा सकता है | पर share market में प्रॉफिट सिर्फ market के ऊपर या नीचे जाने पर depend नहीं करता है |

ऐसा भी हो सकता है कि market नीचे जाने पर भी आपको profit हो जाये | तो यहाँ पर हम कह सकते है कि Intraday trading में profit और loss दोनों हो सकते है | पर अगर आपको market , stocks और Intraday trading का अच्छा knowledge है तो आप कम समय में बहुत पैसा बना सकते है | आपका सही investment ही आपको अच्छा पैसा दिला सकता है |

Is intraday trading safe?/ क्या Intraday trading safe है?

नहीं, Intraday trading को safe नहीं कहा जा सकता है, जबकि Market में बहुत तेज़ी से उतार और चढाव आ सकते है| Market बहुत तेज़ी से swing कर सकता है और हो सकता है नतीजा हमारी expectation के बिलकुल विपरीत आये |

और इस चक्कर में हमें loss उठाना पड़ सकता है | और Intraday trading में टाइम पीरियड limited होने के कारण हम कुछ ज्यादा experiment या recovery process भी नहीं कर सकते है | हालांकि Intraday trading में हम over night loss से बच जाते है |

Which broker is best for delivery trading?/ Delivery trading के लिए कौन से brokers best है?

वैसे तो बहुत सारे brokers अच्छे होते है पर यहाँ पर मै आपको कुछ अच्छे और popular Share market brokers के नाम बता रहा हूँ| आप नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक कर के Delivery trading के लिए कुछ अच्छे brokers के नाम जान सकते है |

Delivery trading या trading के लिए कुछ selected brokers की लिस्ट यहाँ पर देखिये|

Which is the best intraday tips provider?/ सबसे अच्छी Intraday tips कौन provide करवाता है?

A1 Intraday tips एक बहुत ही अच्छी tips provider company है तो कि Intraday trading के लिए बहुत उपयोगी और profitable tips provide करवाती है | यह कंपनी india की बेस्ट और accurate tips provide करने वाली कंपनी है | इस कंपनी के टीम members SEBI में एक research analyst के तौर पर रजिस्टर्ड है | इस कंपनी द्वारा प्रोवाइड की जाने वाली टिप्स का accuracy percentage 80 % से ज्यादा ही होता है |

What is the advantage of intraday trading?/ intraday trading के advantages क्या है?

पहली बात तो intraday trading में कोई over night risk नहीं होता है | दूसरा यह है कि invest किया हुआ पैसा उसी दिन return मिल जाता है, जिससे आप दूसरे दिन उस पैसे का use कर सकते है | | तीसरा यह है कि intraday trading में brokerage charge delivery trading से हमेशा कम लगता है |

What is the difference between intraday and cash?

इधर पर आप कंफ्यूज न हो, ये अंतर intraday trading और delivery trading(Cash trading) में अंतर है | इस ब्लॉग को अच्छी तरह से पढ़िए आपको इस प्रश्न का उत्तर अपने आप मिल जायेगा |

What is intraday trading example?/ intraday Trading का एक example दे कर उसे समझाएं?

जैसा कि हम जानते है कि intraday ट्रेड़िंग में हम shares को उसी दिन खरीद कर उसी दिन बेच देते है | उदाहरण के लिए मान लीजिये अपने 14 Dec 2020 को किसी A company के 100 शेयर ख़रीदे जिसके एक शेयर की कीमत 500 रुपया थी| और अपने उसी दिन market ख़तम होने से पहले उन्हें बेच दिया तब शेयर कि कीमत 520 थी | ऐसे में अपने जो टोटल मुनाफा कमाया वो है 20 *100 = 2000 रुपया का |

Can I have 2 demat accounts?/ क्या आप 2 Demat account रख सकते है ?

हाँ आप बिलकुल 2 या 2 से अधिक Demat अकाउंट रख सकते है | पर एक broker के साथ आप एक ही Demat अकाउंट रख सकते है |

Which time is best for trading?/ Trading / Intraday Trading करने के लिए कौन सा समय best है?

वैसे इंडिया में ज्यादातर stock market 9 :30 am पर स्टार्ट होते है, तो ऐसे में आप market शुरू होने के एक घंटे बाद का समय यानि 10 :30 am पर trading करना स्टार्ट कर सकते है | यह समय बहुत अच्छा होता है और बहुत सारे बड़े movements और shares का flow direction पता चल जाता है | पर अगर आप अपनी safty के लिए अथवा कुछ और analysis करने के लिए एक घंटा और भी ले सकते है और आप 11 :30 से trading करना स्टार्ट कर सकते है |

Can I invest 100 RS in the share market?/ के हम share market में 100 रुपया invest कर सकते है?

हाँ बिलकुल! ऐसा कोई भी अमाउंट जिससे आप share market में stocks purchase कर पाए वह काफी है investment करने के लिए| तो ऐसा कुछ भी limited नहीं है कि आपके पास एक अच्छी rakam ही हो तभी आप share market में पैसा invest कर सकते है | बल्कि आप कितनी भी रकम से share market में invest कर सकते है अगर आप उससे एक शेयर भी परचेस करने में सक्षम है |

Is cash equity?/ क्या share Market में cash भी एक equity है?

हाँ, share market में cash भी एक equity है | जैसा कि हम जानते है कि equity share market में एक वैल्यू होती है जिसे हम buy और sell करते है, इसी तरह cash equity भी हमारे investment का liquid portion होता है जिसे हम बाद में कभी भी cash के लिए redeem कर सकते है |

What is CNC and MIS in share market?/ Which is best intraday or CNC?/ share Market में CNC और MIS क्या है ?

CNC का फुल फॉर्म होता है cash and carry , इसका उपयोग delivery based equity trading में होता है | इसके अंतर्गत कोई भी शेयर खरीदने के लिए फुल margin कि जरुरत होती है,और share खरीदने के बाद यह margin ब्लॉक हो जाता है जब तक कि आप अपने shares को sell नहीं करते है | MIS का full form होता है Margin intraday square off , इसका उपयोग intraday trades में equity और F&O(Future and option) में होता है |

Conclusion:

तो इस ब्लॉग(Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi) में हमने Intraday trading और Delivery trading के बीच के अंतर को समझा | यहाँ हमने Intraday trading और Delivery trading के Advantages और disadvantages के आधार पर दोनों के बीच के difference को अच्छी तरह से discuss किया है | दोनों ही प्रकार की trading का स्वरूप अलग अलग है | Intraday trading में हम एक ही दिन के अंदर share या stocks को खरीदते और बेचते है, जबकि Delivery trading में हम share या stocks को खरीदने के बाद एक लम्बे समय तक hold कर के रख सकते है |

इस ब्लॉग में हमने (Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi) से related कुछ बहुत अच्छे प्रश्नो को discuss किया है जैसे कि What is delivery and intraday trade, Can I convert delivery to intraday, Is intraday trading is profitable, Is intraday trading safe, Can I sell intraday share next day, What is margin delivery intraday, Which broker is best for delivery trading, Which is best intraday tips provider, What is the advantage of intraday trading, What is the difference between intraday and cash, When can I buy intraday shares, Can I sell delivery shares on the same day Zerodha, What is the intraday trading example.

इस ब्लॉग(Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट ‘Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi? Delivery trading और Intraday trading के बीच में क्या अंतर होता है ?/ What are the differences between Delivery trading and Intraday trading?‘ को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|Delivery Trading vs Intraday Trading In Hindi|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.