SPF and DKIM records in hindi / SPF और DKIM रिकार्ड्स क्या होते है, कहा पर मिलते है और कहा पर उन्हें रखना होता है ?

हेलो दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट में मैं आपको SPF एंड DKIM रिकार्ड्स के बारे में बताने वाला हूँ | आमतौर पर जो लोग भी Email marketing का use करते है, या अपने बिज़नेस के प्रमोशन के लिए Email सेंड करते है वो लोग इन SPF एंड DKIM रिकार्ड्स से जरूर परिचित होंगे|

ऐसे बहुत से ईमेल मार्केटिंग users होते है जो कि SPF एंड DKIM रिकार्ड्स को ले कर कंफ्यूज रहते है, इसका एक कारण यह भी है कि वो यूजर technical स्किल के बारे में ज्यादा नहीं जानते, उन्हें तो सिर्फ अपने बिज़नेस को आगे बढ़ाने के लिए ईमेल भेजना होता है जिससे कि वो अपने प्रोडक्ट या सर्विस का प्रमोशन कर सके |

तो दोस्तों इस स्थिति में क्या होता है कि ऐसे यूजर ईमेल मार्केटिंग का use करते समय अक्सर SPF एंड DKIM रिकार्ड्स या text रिकार्ड्स को डोमेन होस्टिंग साइट पर palce नहीं करते और फिर आगे जाके उन्हें बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है|

जैसे कि उनके द्वारा सेंड किये गए Emails नहीं भेजे जाते, ईमेल डिलीवर नहीं होते, बहुत सारे इमेल्स बाउंस हो जाते है | और सबसे ख़राब केस में यूजर का SMTP अकाउंट ससपेंड कर दिया जाता है |

तो अपने देखा कि SPF और DKIM रिकार्ड्स का ईमेल मार्केटिंग में कितना बड़ा महत्व है | तो आईये दोस्तों हम यहाँ पर जानते है कि SPF एंड DKIM रिकार्ड्स आखिर होते क्या है और हम इन्हे कैसे अपनी डोमेन होस्टिंग साइट में प्लेस करते है |

SPF का फुल फॉर्म होता है sender proof identity , और DKIM का फुल फॉर्म होता है domain key identification mail | SPF रिकॉर्ड या टेक्स्ट रिकार्ड्स प्लेस करने से हमारे डोमेन का वेरिफिकेशन होता है और DKIM रिकार्ड्स प्लेस करने से हमारे message या फिर ईमेल और ईमेल कंटेंट का वेरिफिकेशन होता है |

दरअसल ईमेल सेंड करनेके लिए हम जिस भी SMTP या ESP का use करते है वो हमें हमारे डोमेन को वेरीफाई करने के लिए SPF और DKIM रिकार्ड्स प्रोवाइड करवाता है जो कि टेक्स्ट रिकार्ड्स ही होते है |

अब हमें करना क्या होता है कि इन text रिकार्ड्स को उठा कर अपनी डोमेन होस्टिंग साइट पर रखना होता है | कहने का मतलब जहा से हमने डोमेन परचेस किया है वह पर DNS मैनेजर में जा कर हमें ये टेक्स्ट रिकार्ड्स प्लेस करने होते है |

इससे होता ये है कि SMTP कि नज़र में हमारा डोमेन और भेजे जाने वाला ईमेल दोनों वेरीफाई हो जाते है | और सेंडिंग साइड पर SMTP सर्वर आराम से हमारे ईमेल को सेंड कर देता है | और रिसीविंग एन्ड पर जब सर्वर देखता है कि इसका SPF रिकॉर्ड वेरीफाई है|

और यह एक ऑथेंटिक डोमेन है तब वह हमारे डोमेन द्वारा भेजे जाने वाले ईमेल को आने देता है और सेंडिंग SMTP सर्वर द्वारा हमारे ईमेल के साथ एक डिजिटल सिग्नेचर भी जाता है जिससे रिसीविंग एन्ड पर SMTP सर्वर यह वेरीफाई कर पाते है कि ईमेल अथवा मैसेज authentic है और वह हमारे ईमेल को आराम से यूजर के इनबॉक्स में भेज देता है |

अगर आप ऊपर दी हुई टेक्निकल डिस्क्रिप्शन को अभी भी अच्छी तरह से नहीं समझ पाए है तो आप इसे कुछ इस तरह से समझ लीजिये| मान लीजिये आपके ऑफिस वालो ने एक इवेंट organize की है और उस इवेंट में कुछ सिलेक्टेड मेंबर्स को ही बुलाया गया है और इसके लिए उन्हें स्पेशल पास दिया गया है | जो भी सिलेक्टेड मेंबर वह पर जायेगा उन्हें वह पर एंट्री गेट पर पास दिखाना होगा तबजाकर उन्हें वहां पर एंट्री मिलेगी |

तो यहाँ पर पास एक SPF एंड DKIM रिकार्ड्स कि तरह है और सिलेक्टेड मेंबर्स को आप ईमेल मान लीजिये और इवेंट में अंदर जाने का मतलब है आपका ईमेल इनबॉक्स में लैंड करवाना| तो बस कुछ ऐसे ही ईमेल मार्केटिंग में होता है | जिसके ईमेल में SPF और DKIM रिकार्ड्स प्रेजेंट रहते है उनके इनबॉक्स में जाने के चांस बहुत ही प्रबल होते है |

आपको SPF एंड DKIM रिकार्ड्स कहा से प्राप्त होंगे ? / Where can we get SPF and DKIM records?

यह रिकार्ड्स आपको SMTP सर्वर से प्राप्त होंगे, जिस SMTP सर्वर का उपयोग आप ईमेल भेजने के लिए करेंगे वही आपको SPF और DKIM रिकार्ड्स प्रोवाइड करवाएगा |

ये SPF और DKIM रिकार्ड्स कहा पर रखने होते है ? / Where to place SPF and DKIM records?

यह आपको अपने डोमेन होस्टिंग साइट पर रखने होते है जहा से अपने डोमेन परचेस किया है, वह पर DNS मैनेजर में जाकर रिकार्ड्स में टेक्स्ट रिकार्ड्स क्रिएट करके आप इन रिकार्ड्स को वह पर रख सकते है और 24-48 घंटे के अंदर ये रिकार्ड्स वेरीफाई हो जाते है |

पर यहाँ पर एक ध्यान देने वाली बात यह है कि आप ने जहा से डोमेन परचेस किया है और वही पर आपकी होस्टिंग है तब तो कोई बात नहीं जैसे ऊपर बताया है वैसे ही करना है|

पर अगर आपने डोमेन कही और से परचेस किया है और उसकी होस्टिंग कही दूसरी जगह पर है जहा पर आपकी वेबसाइट होस्ट है या इसको ऐसे भी कह सकते है कि अगर आपका डोमेन दूसरी जगह पॉइंट हो रहा है तब आपको ये SPF और DKIM रिकार्ड्स वही पर DNS मैनेजर में जा कर रखने होंगे जहा पर आपका डोमेन पॉइंट हो रहा है |

क्या हम अपने domain hosting site पर एक से ज्यादा SPF और DKIM रिकार्ड्स add कर सकते है ? / क्या हम एक साथ एक से ज्यादा ईमेल मार्केटिंग सर्विस का यूज़ एक साथ कर सकते है ?

हाँ बिलकुल! आप एक से ज्यादा SPF एंड DKIM रिकार्ड्स अपने डोमेन होस्टिंग साइट पर add कर सकते है | पर यह सब आपके होस्टिंग प्रोवाइडर पर depend करता है कि वो आपको एक से ज्यादा SPF एंड DKIM रिकार्ड्स add करने कि परमिशन देता है या नहीं | वैसे ज्यादातर डोमेन होस्टिंग प्रोवाइडर्स आपको यह फैसिलिटी प्रोवाइड करते है और आप कितने भी text रिकार्ड्स एक साथ add कर सकते है |

आप SPF and DKIM से रिलेटेड कुछ और अच्छे ब्लॉग पढ़ सकते है:

What is SPF and DKIM?

How do I add SPF and DKIM records in Cpanel?

Conclusion:

तो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट में मैंने आपको SPF और DKIM रिकार्ड्स के बारे हिंदी में विस्तृत जानकारी दी है कि कैसे SPF और DKIM रिकार्ड्स का ईमेल मार्केटिंग में बहुत ही महत्व होता है और हम इस रिकार्ड्स को कैसे सफलतापूर्वक अपनी डोमेन होस्टिंग साइट पर प्लेस करते है और अपने डोमेन और ईमेल को वेरीफाई करते है और unnecessary बाउंस इमेल्स, SMTP अकाउंट सस्पेंशन से बच सकते है |

इस ब्लॉग को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते a5theorys@gmail.comपर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट ‘SPF and DKIM records in hindi / SPF और DKIM रिकार्ड्स क्या होते है, कहा पर मिलते है और कहा पर उन्हें रखना होता है ?‘ को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.