Functional Dependency In DBMS In Hindi?

हेलो दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट(Functional Dependency In DBMS In Hindi) में हम आपको डेटाबेस के अंतर्गत Functional Dependency के बारे में हिंदी में विस्तार से बताने जा रहे है | बहुत से लोगो को खासतौर पर स्टूडेंट्स को इस Functional Dependency की डेफिनिशन को समझने में बड़ा ही confusion रहता है |

पर आज इस ब्लॉग(Functional Dependency In DBMS In Hindi) को पढ़ने के बाद आप Functional Dependency को बहुत अच्छे से समझ जायेगे | यहाँ पर हम आपको बहुत ही सरल लैंग्वेज में और example के साथ Functional Dependency के बारे में exaplain करेंगे |

तो दोस्तों जब डेटाबेस टेबल में कोई एक attribute दूसरे attribute के ऊपर depend होता है तब हम इस Dependency को Functional Dependency बोलते है | और इस Functional Dependency को हम arrow सिग्न से denote करते है |Functional Dependency In DBMS In Hindi|

यहाँ पर attributes से मतलब है column से, जब किसी भी एक column की वैल्यू दूसरे column पर देपेंद करती है तो हम यह बोल सकते है की एक कॉलम दूसरे कॉलम पर functionally dependent है |Functional Dependency In DBMS In Hindi|

अगर अभी भी आपको इसकी पिक्चर क्लियर नहीं हुई है तो फिर हम आपको नीचे एक example की मदद से समझाने का प्रयास करते है |

नीचे हम एक Student टेबल का example लेते है| यहाँ पर हमारे पास चार कॉलम है Student roll Number , Student class , Student Address , और Student name |

Student_Roll_NumberStudent_NameStudent_ClassStudent-Address
M001Ram1ABC
M002Shyam1JKL
M003Murli2XYZ
Student: Functional Dependency In DBMS In Hindi

अब अगर हम यहाँ पर देखे तो हम Student के roll Number की मदद से स्टूडेंट नाम, स्टूडेंट क्लास, और स्टूडेंट एड्रेस की जानकारी आसानी से निकल सकते है |

तो यहाँ पर हम कह सकते है है की स्टूडेंट नाम, स्टूडेंट क्लास, और स्टूडेंट एड्रेस फ़ंक्शनैली डिपेंडेंट है स्टूडेंट रोल नंबर पर| और यहाँ पर हम इस Functional Dependency को arrow के sign के साथ denote कर सकते है | और फिर यह Functional Dependency कुछ इस तरह से represent की जाएँगी|

Student roll Number -> Student Name
Student roll Number -> Student class
Student roll Number -> Student Address

Functional Dependency के कुछ के terms होते है जिन्हे जानना आपके लिए जरुरी है जो नीचे explain किये गए है: Functional Dependency In DBMS In Hindi

Key Terms Description:

Key TermsDescription
Axiom यह inference rules का एक सेट होता है जिसका उपयोग एक relational database की सभी Functional Dependency को infer करने के लिए होता है |
Decomposition Decomposition यह decomposition का rule यह suggest करता है कि अगर आपके पास एक table में ऐसे कोई दो entities है जिन्हे एक ही प्राइमरी के द्वारा determine किया जाता है तब इस case में आप को उन्हें दो table में ब्रेक कर देना चाहिए |
Dependent Functional Dependency में यह वह value होती है जो की right side पर रखी जाती है |
Determinant यह वह value होती है जो कि Functional Dependency के लेफ्ट साइड पर रखी जाती है |
Union Union अगर दो टेबल अलग अलग है और उनकी प्राइमरी के same है तो फिर हमें उन्हें एक साथ एक टेबल में ही मर्ज कर लेना चाहिए |
Key Terms Of Functional Dependency

अब हम आगे इस ब्लॉग पोस्ट में Functional Dependency के कुछ रूल्स देखते है :

Functional Dependency के तीन प्रमुख rules निचे दिए गए है :

Reflexive rule:

अगर X कुछ ऐट्रिब्यूट्स का सेट है और y जो है वो X का सबसेट है तो फिर X y की एक वैल्यू को होल्ड करता है |

Augmentation rule:

अगर a ->c holds , और c एक attribute सेट है तब ac ->bc | इसका मतलब यह है कि किसी भी attribute को ऐड करने से जो बेसिक डिपेंडेंसी है वो चेंज नहीं होगी |

Transitivity rule:

यह प्रॉपर्टीज कुछ कुछ अलजेब्रा की प्रॉपर्टी की तरह ही है | इसके तहत अगर X ->y , और y ->Z तब X ->Z भी होल्ड करेगा| X ->y यहाँ पर फंक्शनल डिपेंडेंसी है जहाँ पर X y की वैल्यू को determine करता है |

चलिए अब इस ब्लॉग पोस्ट में आगे हम Functional Dependency के प्रकार के बारे में बात करते है |

मुख्या तौर पर फंक्शनल डिपेंडेंसी चार प्रकार की होती है :

Multivalued Dependency
Trivial Functional Dependency
Non-Trivial Functional Dependency
Transitive Dependency

Multivalued Dependency :

तब किसी डेटाबेस टेबल के एक से ज्यादा attributes एक एट्रिब्यूट पर फ़ंक्शनैली डिपेंडेंट हो जाये तब इस केस में ऐसे डिपेंडेंसी को हम multivalued Dependency कहते है |

जैसे example के लिए आप मान लीजिये एक car टेबल तीन कॉलम है| car _Model , car _Myear , और car _color | अब हम यहाँ पर यह देख सकते है कि car color और car Myear एक दूसरे से इंडिपेंडेंट है |

Car_modelMaf_yearColor
J0012017Metallic
J0012017Green
J0052018Metallic
J0052018Blue
Car

पर दोनों ही कॉलम car -Model पर dependent है | इसलिए हम यहाँ पर यह कह सकते है कि car _Myear , और car _color इस multivalued dependent है car _Model पर|

Transitive :

वैसे तो इस ब्लॉग पोस्ट में ऊपर हम इस प्रॉपर्टी को एक्सप्लेन कर चुके है चलिए एक बार फिर example के साथ एक्सप्लेन कर देते है | पहले तो देखिये transitive प्रॉपर्टी होती क्या है ?

If X ->y और y ->Z तब X ->Z भी true होगा |

example के लिए हम एक Company टेबल लेते है और इस टेबल में तीन कॉलम है Company Name, Company CEO , और Age | अब यहाँ पर जो मुख्य Functional Dependency बनती है वो है|

CompanyCEOAge
MicrosoftSatya Nadella55
GoogleSundar Pichai48
AppleTim Cook56
Company

Company _name->सीईओ इसका मतलब अगर हमें कंपनी का नाम पता है तो हम सीईओ का नाम आसानी से बता सकते है |

CEO->Age इसका मतलब अगर हमें सीईओ का नाम पता है तो फिर हम उसकी Age आराम से बता सकते है |

इसी तरह transitive प्रॉपर्टीज के अंतर्गत अगर हमें कंपनी नाम पता है तो भी हम सीईओ की Age बता सकते है |

कहने का मतलब Company _naam ->Age भी होल्ड करेगा |

Trivial और Non -Trivial Functional Dependency के लिए आप इस ब्लॉग लिंक को खोल कर पढ़ सकते है |

कुछ और extensive blogs पढ़ने के लिए नीचे दी गयी blog लिंक पर क्लिक करें|

What is Normalization and why is it needed?

What is 1NF in DBMS?

What is 2NF in DBMS?

What is 3NF in DBMS?

Third Normal Form In DBMS In Hindi?

Second Normal Form In DBMS In Hindi?

First Normal Form In Dbms In Hindi?

Conclusion:

तो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(Functional Dependency In DBMS In Hindi) में हमने जाना कि डेटाबेस में Functional Dependency क्या होती है| हमने इस ब्लॉग में Functional Dependency के rules के बारे में पढ़ा, हमने यह भी जाना कि Functional Dependency के कितने प्रकार होते है | किसी भी डाटा टेबल में जब कोई एक एट्रिब्यूट किसी दूसरे एट्रिब्यूट पर डिपेंडेंट होता है तब हम यह कह सकते है कि एक एट्रिब्यूट दूसरे एट्रिब्यूट पर functionally dependent है | और इसे represent करने के लिए हम arrow सिग्न(->) का उपयोग करते है |

इस ब्लॉग(Functional Dependency In DBMS In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(Functional Dependency In DBMS In Hindi) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *