SQL SELF JOIN IN HINDI?

हेलो दोस्तों आज के इस ब्लॉग पोस्ट(SQL SELF JOIN IN HINDI) में हम आपको दो और महत्वपूर्ण joins के बारे में जानकारी देने वाले है | इससे पहले के ब्लॉग में हम आपको INNER JOIN , left JOIN और right JOIN के बारे में जानकारी दे चुके है |

दोस्तों आज के इस ब्लॉग(SQL SELF JOIN IN HINDI) में हम आपको cartesiana और SELF JOIN के बारे में जानकारी देने वाले है | और इन joins को example के साथ समझने के लिए हम यहाँ पर दो tables लेते है जो कि नीचे दी गयी है |

student
student: SQL SELF JOIN IN HINDI
student course
student course: SQL SELF JOIN IN HINDI

CARTESIAN JOIN :

cartesian JOIN को हम क्रॉस ज्वाइन के नाम से भी जानते है | cartesian JOIN के अंतर्गत हम एक टेबल की हर row को दूसरी टेबल की प्रत्येक row के साथ ज्वाइन करते है | और यह ज्वाइन उस स्थिति में होता है जब हमें matching column अथवा Where कंडीशन specified न हो |

अगर हमें दो टेबल को ज्वाइन करने के लिए कोई भी Where कंडीशन न दी गयी हो तब इस केस में cartesian JOIN , cartesian product की तरह behave करता है | कहने का मतलब यह है कि result set में हमें जो भी rows मिलेगी वो दोनों टेबल्स की rows का प्रोडक्ट होगी |

और यदि हमें Where condition ज्ञात है तब इस केस में cartesian ज्वाइन, INNER JOIN की तरह काम करेगा|

अगर हम एक जनरल बात करें तो क्रॉस ज्वाइन जो है वो इनर ज्वाइन के सिमिलर ही होता है, जहाँ पर ज्वाइन कंडीशन हमेशा true evaluate होती है |

cartesian join syntax
cartesian join syntax

जो query नीचे दी गयी है उसमे हम NAME , और age को स्टूडेंट टेबल से सेलेक्ट करेंगे और course _ID को student course टेबल से | और इसके आउटपुट में आप देख सकते है कि स्टूडेंट टेबल की प्रत्येक row जो है वो स्टूडेंट कोर्स टेबल की प्रत्येक row से ज्वाइन है | इसलिए जो रिजल्ट सेट टेबल में टोटल rows है वो है 4 *4 =16 |

SELECT Student.NAME, Student.AGE, StudentCourse.COURSE_ID
FROM Student
CROSS JOIN StudentCourse;

cartesian product output
cartesian product output

SELF JOIN :

जैसे कि इसके नाम से स्पष्ट होता है कि सेल्फ ज्वाइन के अंदर हम एक टेबल को खुद उसी टेबल से ज्वाइन करते है | यहाँ पर टेबल की प्रत्येक row खुद से ही ज्वाइन होती है और बाकी सभी rows कुछ कंडीशन के according ज्वाइन होती है | और सरल भाषा में हम कह सकते है की SELF JOIN के अंतर्गत एक ही टेबल की दो कॉपी आपस में ज्वाइन होती है |

Syntax :

SELECT a.coulmn1 , b.column2
FROM table_name a, table_name b
WHERE some_condition;

table_name: Name of the table.
some_condition: Condition for selecting the rows.

Example Queries(SELF JOIN):

SELECT a.ROLL_NO, b.NAME
FROM Student a, Student b
WHERE a.ROLL_NO < b.ROLL_NO;

self join output
self join output

Conclusion:

हेलो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(SQL SELF JOIN IN HINDI) में हमने दो इम्पोर्टेन्ट ज्वाइन के बारे में पढ़ा और उनको example के साथ समझा | एक हमने cartesian JOIN के बारे में पढ़ा और दूसरा हमने SELF JOIN के बारे में पढ़ा | cartesian JOIN में एक टेबल की प्रत्येक row को दूसरी टेबल की प्रत्येक row के साथ ज्वाइन करते है | और SELF JOIN के अंतर्गत हम एक टेबल को उसी टेबल के साथ ज्वाइन करते है | कहने का मतलब SELF JOIN में हम एक ही टेबल दो कॉपी को आपस में ज्वाइन करते है |

इस ब्लॉग(SQL SELF JOIN IN HINDI) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट(SQL SELF JOIN IN HINDI) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *