VLAN vs Subnet In Hindi?

हेलो दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट(VLAN vs Subnet In Hindi) में हम आपको VLAN और subnet के बीच डिफरेंस को हिंदी में विस्तार से बताने वाले है | VLAN और subnet दोनों को develop करने के पीछे जो उद्देश्य है वो एक नेटवर्क को पार्टीशन करना अथवा segmenting करना है |

और दोनों के बीच में कुछ similarities भी है जैसे broadcast डोमेन को restrict करना अथवा सिक्योरिटी के चलते सभी डिफरेंट subnetwork के बीच isolation रखना |VLAN vs Subnet In Hindi|

जबकि अगर हम ऑपरेशन के नज़रिये से बात करें तो फिर दोनों में काफी डिफरेंस है | इसलिए इस ब्लॉग पोस्ट में हम VLAN vs subnet पर फोकस करेंगे |VLAN vs Subnet In Hindi|

VLAN vs Subnet In Hindi: VLAN और subnet के बीच में क्या क्या difference है ?

subnet जो है वो एक छोटा नेटवर्क होता है जो कि कुछ IP एड्रेस के ग्रुप को मिलाकर बनता है | यह एक बड़े नेटवर्क का ही पार्ट होता है | एक ही सबनेट में मौजूद IP addresses बिना किसी routing devices की मदद से ही एक दूसरे से आसानी से communicate कर सकते है |

समझने के लिए हम subnet को हम एक कंपनी का एक डिपार्टमेंट समझ सकते है | और जिस तरह से एक डिपार्टमेंट के लोग बिना कही बाहर जाये एक दूसरे से आसानी से कम्यूनिकेट कर पातें है उसी तरह same subnet में मौजूद IP addresses भी एक दूसरे से आसानी से communicate कर सकते है |

अगर आप subnet के बाहर किसी address तक पहुंचना चाहते है तो फिर आपको उसके लिए या तो किसी router की मदद लेनी पड़ेगी या फिर modern gigabit ethernet switch की मदद लेनी पड़ेगी जो कि router functionality से less है |

जैसे कि हम जानते है कि subnet IP एड्रेस से रिलेटेड है इसलिए यह लेयर 3 पर काम करता है |

VLAN को हम वर्चुअल LAN के नाम से जानते है | यह devices के group का कलेक्शन हो सकता है जो कि एक या एक से अधिक LAN पर हो सकता है जो कि LAN की फिजिकल लोकेशन पर depend नहीं करता है |

जबकि VLAN को अक्सर नेटवर्क हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की जरुरत होती है VLAN functionality को सपोर्ट करने के लिए | जैसे कि VLAN switch VLAN network को set up करने के लिए जरुरी होता है |

VLAN के अंतर्गत हम नेटवर्क का configuration software के द्वारा भी कर सकते है | और VLAN जो है वो लेयर 2 पर काम करता है और यह यह डोमेन broadcast को ब्रेक करता है |

VLAN vs Subnet In Hindi Tabular Differences:

ParameterVLAN

Subnet
Definition

VLAN एक virtual अथवा logical LAN है जो अपने साथ broadcast भी रखती है | और केवल वो होस्ट्स जो इस VLAN network को belong करते है वो ही इस broadcast को देख पाएंगे|

subnet एक IP addresses कि range अथवा ग्रुप होता है जो कि communication करने में मदद करता है और यह layer 3 के ऊपर communicate करता है |
Logical and Physical Network

VLAN हमें different logical और physical networks create करने के लिए allow करता है |
subnet हमें सिर्फ logical network क्रिएट करने के लिए allow करता है वो भी same फिजिकल नेटवर्क से|
Network Member Control

A VLAN is configured on the server/router side. The one who controls the router/server decides which computer/port is assigned to which VLAN. For example, if you have a 24 port , you can assign 12 ports to VLAN 1 and the others to VLAN 2.

A Subnet is determined by the IP you use and the IP can be chosen by the admin of a computer (or device). Therefore it is done on the client-side
– you can not control it.

OSI Layer

VLAN layer 2 का term है जहाँ पर MAC address काम करता है |
subnet layer 3 का term है जहाँ पर IP layer काम करती है |
Hardware/Software Based

More of software-based terminology.

More of hardware-based terminology.

Security & Control

VLANs are perceived to be more secure and provide more robust control for the network.

The subnet has limited control in comparison to VLAN.

Major Benefit

VLAN बहुत ही flexible होता है, यह बहुत ही अच्छी work performance करता है | traffic को कम करके efficiency को बढ़ाता है |
एक subnet पर इस बात का कोई affect नहीं होता है अगर कोई और subnet डाउन हो गया हो या फिर उसमे कुछ technical break down हो गया हो |
VLAN vs Subnet In Hindi

VLAN vs Subnet: इन दोनों में से कौन best है ?

देखिये VLAN और subnet दोनों की अपनी अपनी advantages है और limits है | जैसे एक्साम्प्ले के लिए VLAN जो होता है वो अलग अलग logical और physical networks के क्रिएशन को allow करता है | और दूसरी तरफ subnet केवल डिफरेंट logical नेटवर्क्स के creation को allow करता है |

अगर किसी नेटवर्क में network sniffer है तो फिर एक subnet के users दूसरे सबनेट के existence को डिस्कवर कर सकते है | जबकि VLAN users के साथ ऐसा कुछ भी नहीं होता है |

इस ब्लॉग(VLAN vs Subnet In Hindi) को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें इस पते [email protected]पर ईमेल लिख सकते है|

आशा करता हूँ, कि आपने इस पोस्ट( VLAN vs Subnet In Hindi ) को खूब एन्जॉय किया होगा|

आप स्वतंत्रता पूर्वक अपना बहुमूल्य फीडबैक और कमेंट यहाँ पर दे सकते है|

आपका समय शुभ हो|

Anurag

I am a blogger by passion, a software engineer by profession, a singer by consideration and rest of things that I do is for my destination.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *